अपने स्वभाव को निर्मल रखने के लिए कबीर ने क्या उपाय सुझाया है?

अपने स्वभाव को निर्मल रखने के लिए कबीर ने क्या उपाय सुझाया है?

The answer is :

अपने स्वभाव को निर्मल रखने के लिए कबीर ने निंदक को अपने निकट रखने का सुझाव दिया है।निंदक ही हमारा सबसे बड़ा हितैषी है, क्योंकि वहे हमारे अवगुणों से हमको अवगत कराता है। निंदक बुराइयों को दूरकर सद्गुणों को अपनाने में सहायक सिद्ध होता है। निंदक की आलोचना को सुनकर आत्मनिरीक्षण कर शुद्ध व निर्मल आचरण करने में सहायता मिलती है।

Related Posts

Post a comment