कबीर की उद्धृत साखियों की भाषा की विशेषता स्पष्ट कीजिए।

कबीर की उद्धृत साखियों की भाषा की विशेषता स्पष्ट कीजिए।

The answer is :

कबीर ने अपनी साखियाँ सधुक्कड़ी भाषा में लिखी है। इनकी भाषा मिलीजुली है। इनकी साखियाँ संदेश देने वाली होती हैं।वे जैसा बोलते थे वैसा ही लिखा है।लोकभाषा का भी प्रयोग हुआ है; जैसे- नेग, मुवा, जाल्या आदि। कबीर की भाषा लयबद्धता, उपदेशात्मकता, प्रवाह, सहजता और सरलता शाली है।

Related Posts

Post a comment